PM Kusum Solar Pump Vitran Yojana 2024: किसान सोलर पंप योजना

PM Kusum Solar Pump Vitran Yojana 2024: किसान सोलर पंप योजना

PM Kusum Solar Pump Vitran Yojana 2024: किसान सोलर पंप योजना

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

PM Kusum Solar Pump Vitran Yojana 2024: भारत सरकार द्वारा शुरू की गई इस योजना के अंतर्गत किसानों को 90% तक की सब्सिडी दी जाती है।

भारत सरकार द्वारा शुरू की गई एक योजना है जो किसानों को सोलर पंप वितरण के माध्यम से सौर ऊर्जा के उपयोग से फसलों की सिंचाई करने के लिए बनाई गई है। इस योजना के तहत किसानों को सौर ऊर्जा से चलने वाले पंप खरीदने के लिए वित्तीय सहायता दी जाती है।

इस योजना के तहत किसानों को 3 HP, 5 HP और 7.5 HP क्षमता वाले सोलर पंप खरीदने के लिए वित्तीय सहायता दी जाती है। इस योजना के तहत किसानों को ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराना होगा।

Overview (Kusum Solar Pump Vitran Yojana 2024)

Name of this Scheme kusum solar pump vitran yojana 2024
Name of this Article kusum solar pump vitran yojana 2024
Started By पूर्व वित्तमंत्री श्री अरुण जेटली जी
Toll Free No. 18001803333
Who is Beneficiary किसान
Objective of Scheme रियायती मूल्य पर सौर सिंचाई पंप उपलब्ध कराना
Application Mode Online
Official Link Visit Here

Required Eligibility for Kusum Solar Pump Vitran Yojana 2024

पीएम कुसुम सोलर पंप योजना में आवेदन करने वाला व्यक्ति भारतीय निवासी होना चाहिए। इस योजना का लाभ किसान, किसानों का समूह, सहकारी समितियां, पंचायत, किसान उत्पादक संगठन, जल उपभोक्ता एसोसिएशन आदि को मिलेगा। प्रति मेगावाट के हिसाब से किसान के पास तकरीबन 2 हेक्टेयर जमीन की आवश्यकता होनी चाहिए। आवेदक व्यक्ति के पास सभी दस्तावेज मौजूद होने चाहिए।

Required Documents for Kusum Solar Pump Vitran Yojana 2024

    • राशन कार्ड की फोटो कॉपी
    • आधार कार्ड की फोटो कॉपी
    • ऑथोराइजेशन लेटर
    • रजिस्ट्रेशन की कॉपी
    • जमीन की जमाबंदी की कॉपी
    • मोबाइल नंबर
    • चार्टर्ड अकाउंटेंट द्वारा जारी नेटवर्थ सर्टिफिकेट (अगर विकासकर्ता प्रोजेक्ट विकसित करता है)

    • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
    • बैंक खाता विवरण

    Benefits of Kusum Solar Pump Vitran Yojana 2024

    • प्रधानमंत्री कुसुम योजना के लाभ देश के सभी राज्यों के किसानों को मिलेंगे।
    • इस योजना के द्वारा किसानों को सौर सिंचाई पंप की ऐसी बिक्री होगी, जो बहुत कम दामों पर होगी।
    • सौर पंपों के सौरायण कोवेलेंशन प्रक्रिया के तहत, लगभग 10 लाख से अधिक सौर संबंधित पंपों का सोलराइजेशन किया जाएगा।
    • लगभग 17,00,000 से भी ज्यादा सिंचाई पंप इस योजना के पहले चरण में सोलर पैनल से चलने की योजना है. जिससे डीजल की खपत में काफी कमी आने की संभावना होगी।

    • योजना की वजह से एक्स्ट्रा बिजली का भी प्रोडक्शन होगा।
    • यदि कोई किसान भाई इस योजना के अंतर्गत सौर पैनल स्थापित करता है, तो सरकार द्वारा 60 प्रतिशत आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी और आप्रवासी बैंक द्वारा लगभग 30 प्रतिशत आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। इस प्रकार, किसान भाइयों को अपने तरफ से केवल 10 प्रतिशत भुगतान करना होगा।
    • किसानों को इस योजना से वो फायदा होगा जो ऐसे राज्यों में नहीं मिलता है, जहां बारिश कम होती है या जहां पर्याप्त बिजली सिंचाई के लिए उपलब्ध नहीं है।
    • किसानों को एक 24-घंटे बिजली की आपूर्ति मिलने से किसान भाइयों को अब खेतों की सिंचाई को बड़ी आसानी से करने की सुविधा मिलेगी।
    • किसान भाइयों द्वारा उत्पन्न की गई अतिरिक्त बिजली को सोलर पैनल के उपयोग से बनाया जाएगा, और ये ऐसी बिजली होगी जो किसान भाई अपनी पसंद के हिसाब से सरकार या प्राइवेट बिजली विभाग को बेच सकेंगे।
    • इस योजना के तहत लगाए जाने वाले सोलर पैनल को बंजर भूमि पर लगाया जाएगा, ताकि बंजर भूमि का भी उपयोग किया जा सके और किसान अपनी बंजर भूमि से आय भी अर्जित कर सकें।

    Components of Kusum Solar Pump Vitran Yojana 2024

    • प्रधानमंत्री कुसुम योजना के मुख्यांश निम्नलिखित 4 हैं।
    • सौर पंप वितरण :- सेंट्रल गवर्नमेंट के योजना के प्रथम चरण के अंतर्गत इलेक्ट्रिकल डिपार्टमेंट सोलर एनर्जी से चलने वाले पंप का सफल वितरण करने की योजना है.

    • वर्तमान पंपों का आधुनिकरण :- पहले से ही जो पंप लगे हुए हैं, उनका आधुनिकरण किया जाएगा और जो पुराने पंप है उन्हें चेंज करके नए सोलर पंप से बदला जाएगा।
    • सौर ऊर्जा कारखाने का निर्माण :- अच्छी मात्रा में इलेक्ट्रिसिटी का प्रोडक्शन करने के लिए सोलर एनर्जी कारखाने भी निर्माण किये जायेंगे.

    Properties of Kusum Solar Pump Vitran Yojana 2024

    इस योजना के तहत किसानों को सौर ऊर्जा से चलने वाले पंप खरीदने के लिए वित्तीय सहायता दी जाती है।

    धरोहर राशि

    इस योजना के अंतर्गत अगर कोई व्यक्ति खुद सोलर एनर्जी यूनिट की स्थापना करता है, तो धरोहर राशि 1,00,000 प्रति मेगावाट की दर से जमा किये जाने की योजना है.

    इसे डिमांड ड्राफ्ट और बैंक गारंटी के तौर पर देना होगा, जिसकी वैलिडिटी कम से कम 6 महिना होगी।

    निष्पादन सिक्योरिटी अमाउंट

    यदि कोई व्यक्ति अपने पैसों को इस योजना के तहत लगा कर सोलर एनर्जी यूनिट स्थापित करता है, तो उसके पास हर मेगावाट के लिए 1,00,000 रुपये की दर से निधि जमा करनी होगी। इस पैसे की वैलिडिटी 15 दिनों की होगी और जब प्रोजेक्ट चालू होगा, तो 1 महीने के बाद इस पैसे को लौटा देना होगा।

    किसानों को फायदा

    किसानों द्वारा जो सोलर पंप प्राप्त हो रहे हैं, उनके अंतर्गत यह योजना उन्हें अपने खेतों में मौजूद फसल की सिंचाई करने के लिए सफलतापूर्वक सहायता प्रदान कर रही है। जिसकी वजह से उनकी फसल सही प्रकार से पैदा हो रही है और फसल का उन्हें अच्छा दाम भी प्राप्त हो रहा है। इस योजना की वजह से बिजली न होने पर भी किसान भाई खेत की सिंचाई कर पा रहे हैं।

    खेत में पंपसेट की स्थापना

    योजना के अंतर्गत 3 हॉर्स पावर से लेकर के 7.5 हॉर्स पावर के पंपसेट को स्थापित किया जा रहा है। 3 हॉर्स पावर के लिए 20549/-, 5 हॉर्स पावर के लिए 33749/- और साडे 7 हॉर्स पावर के लिए 46687/- की अमाउंट डिमांड के तौर पर किसानों को जमा करवानी होती है। इसके बाद ही किसानों के द्वारा अपने खेत में पंपसेट लगाया जा सकता है।

    सोलर इलेक्ट्रिकल यूनिट स्थापित करने का समय

    प्रधानमंत्री कुसुम योजना में आवेदन करने के पश्चात संबंधित डिपार्टमेंट के द्वारा एसपीजी को सोलर एनर्जी यूनिट स्थापित करने के लिए लेटर ऑफ ऑथोराइजेशन जारी किया जाता है, जिसकी वैलिडिटी 9 महीने की होती है। यानी कि 9 महीने के अंदर ही सोलर एनर्जी यूनिट की स्थापना की जानी चाहिए। अगर तय समय में यूनिट की स्थापना नहीं की जाती है तो पेनल्टी भरना पड़ेगा। अगर एसपीजी के द्वारा जो दस्तावेज जमा किए गए हैं वह गलत होते हैं तो ऐसी अवस्था में किसी भी समय आवेदन को इनवैलिड कर दिया जाएगा।

    Establishment of Kusum Solar Pump Vitran Yojana 2024

    सरकार द्वारा ट्यूबवेल की स्थापना होगी जो थोड़ी मात्रा में इस्तेमाल होने वाली बिजली उत्पन्न करेगी।

    उत्तरप्रदेश कुसुम सोलर पंप योजना ऑनलाइन आवेदन:-

    • उत्तर प्रदेश कुसुम योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन करने के लिए, सबसे पहले आपको उत्तर प्रदेश कुसुम योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर पहुंचना होगी।
    • आधिकारिक वेबसाइट के होम पेज पर जाने के बाद आपको जो प्रोग्राम वाला ऑप्शन दिखाई दे रहा है, उसी ऑप्शन पर क्लिक करना है।
    • अब आपको कुसुम योजना के ऑप्शन पर क्लिक कर देना है। ऐसा करने से आपकी स्क्रीन पर एक नया पेज ओपन होता है, जिसमें आपको रजिस्ट्रेशन वाले ऑप्शन पर क्लिक करना होता है।
    • अब आपको कुसुम योजना के ऑप्शन पर क्लिक कर देना है। ऐसा करने से आपकी स्क्रीन पर एक नया पेज ओपन होता है, जिसमें आपको रजिस्ट्रेशन वाले ऑप्शन पर क्लिक करना होता है।
    • अब जब आप अपनी स्क्रीन देखेंगे, तो एक पंजीकरण फॉर्म खुलेगा जिसमें आपको सभी आवश्यक जानकारी को उसके निर्धारित स्थान पर दर्ज करना होगा।
    • आपको सभी जानकारी के साथ-साथ आवश्यक दस्तावेजों को अपलोड भी करना होगा।
    • यदि आपको अब रजिस्टर करने का विकल्प दिखा रहा है, तो आपको उसे चुनना होगा।
    • यह प्रक्रिया करने के बाद, आप यूपी कुसुम योजना में आवेदन करने के लिए सक्षम होंगे।

    Helpline No.

    आप प्रधानमंत्री कुसुम योजना हेल्पलाइन नंबर 18001803333 पर संपर्क स्थापित कर सकते हैं।

    Conclusion (PM Kusum Solar Pump Vitran Yojana 2024)

    ऐसे कई क्षेत्र हैं देश में जहां पर्याप्त वर्षा नहीं होती है, जिसके कारण वहाँ के किसानों को विभिन्न समस्याओं का सामना करना पड़ता है. क्योंकि बरसात ना होने की वजह से फसल की सिंचाई करने में काफी देरी होती है और इसका बुरा प्रभाव फसल उत्पादन पर भी पड़ता है। हर किसान भाई के द्वारा खेत की सिंचाई करने के लिए महंगे साधनों का इस्तेमाल नहीं किया जा सकता है। इसलिए केंद्र और राज्य सरकार के द्वारा सिंचाई के लिए विभिन्न योजनाओं का संचालन किया जा रहा है। प्रधानमंत्री कुसुम सोलर पंप योजना भी एक ऐसी योजना है, जिसके अंतर्गत किसान भाई सोलर पंप सब्सिडी के साथ लगवा सकेंगे।

    Leave a Comment

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    Scroll to Top